आपकी जीत में ही हमारी जीत है
Promote your Business

विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने दिल्ली पुलिस के जवान शैली बंसल की मृत्युं पर दिल्ली के मुख्यमंत्री को लिखा पत्र, कहा शहीद का दर्जा और कॉरोना वारियर्स की मृत्युं पर मिलने वाली दी जाए सभी सुविधाएं*

By CJ Sandeep Gupta

*प्रेस विज्ञप्ति* *दिनांक:29.05.2020* *विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने दिल्ली पुलिस के जवान शैली बंसल की मृत्युं पर दिल्ली के मुख्यमंत्री को लिखा पत्र, कहा शहीद का दर्जा और कॉरोना वारियर्स की मृत्युं पर मिलने वाली दी जाए सभी सुविधाएं* दिल्ली पुलिस में कार्यरत सिपाही शैली बंसल की कॉरोना महामारी के दौरान पिछले दिनों हुई मृत्युं विषय पर चल रहे विवाद में लोनी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने दिल्ली मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। विधायक ने पत्र में दिल्ली सरकार से शैली बंसल को शहीद का दर्जा देने के अतिरिक्त कॉरोना महामारी के दौरान सरकार द्वारा घोषित सभी सुविधाओं का लाभ परिजनों को दिए जाने की मांग की है। विधायक ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा कि यूपी स्थित हापुड़ के एक छोटे गांव एवं गरीब पारिवारिक पृष्ठभूमि से आने वाली 23 वर्षीय शैली बंसल दिल्ली पुलिस में कार्यरत थी एवं नंदनगरी थाने में कॅरोना महामारी के दौरान ड्युटी कर रही थी। कॅरोना महामारी के दौरा कॅरोना वारियर्स के रूप में शैली बंसल लगातार अपने जान की परवाह किए बगैर दिल्ली पुलिस की सेवा कर रही थी लेकिन 2 मई को ड्युटी के दौरान ही उन्हें बुखार आया और जांच में कोविड टेस्ट निगेटिव आया और कॅरोना लक्षणों के साथ ही तबीयत बिगड़ने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया जिसके बाद हालत बिगड़ने पर 24 मई को उनकी नोएडा के एक अस्पताल में दुखद मृत्यु हो गई। इसी दौरान उनके साथ कार्य करने वाले थाने के ही अन्य तीन स्टाफ 3 और 4 मई को कॅरोना पाॅजिटिव पाए गए। वहीं विधायक ने आईसीएमआर के नियमों का हवाला देते हुए कहा कि आईसीएमआर की गाइडलाइन साफ कहती है कि ऐसे केस जिसमें समूह में काम करने वाले दो या दो से अधिक व्यक्ति कोविड पाॅजिटिव पाए जाते हैं तो उनके साथ काम करने वाले बाकी लोगों को भी कोविड सस्पेक्ट ही माना जाएगा और अगर उनकी रिपोर्ट निगेटिव भी आती है तो उन्हें सस्पेक्ट माना जाएगा और यदि मरीज की मौत होे जाती है तो इसे कोविड केस ही माना जाएगा। एम्स के डाॅक्टरों का भी स्पष्ट मत है कि शैली की मौत कोविड के कारणों से हुई है। विधायक ने लिखा कि दिल्ली पुलिस की जाबांज एवं होनहार सिपाही शैली बंसल जोकि एक साधारण पृष्ठभूमि से आती है और संघर्ष के बलबूते दिल्ली पुलिस की प्रतिष्ठित सेवा के लिए चयनित हुई, उनकी मौत कॅरोना महामारी काल में ड्युटी के दौरान सेवा देने के दौरान हुई इसलिए शैली बंसल को शहीद का दर्जा दिए जाने के अतिरिक्त दिल्ली सरकार द्वारा कॅरोना वारियर्स के लिए घोषित की गई 1 करोड़ की सहायता धनराशि एवं अन्य सहायता प्रदान की जाए। साथ ही परिवार की कमजोर आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए परिवार के एक सदस्य को योग्यतानुसार सरकारी नौकरी एवं दिल्ली में रहने के लिए मकान प्रदान करने की कृपा करें जिसे सिपाही शैली बंसल को सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित की जा सकें और परिवार आत्मनिर्भर जीवन व्यतीत कर सकें। साथ ही विधायक ने गृह मंत्री भारत सरकार, राज्यपाल और दिल्ली पुलिस कमिश्नर को भी पत्र से अवगत कराते हुए संज्ञान लेने की मांग की। *विधायक, कार्यालय लोनी*

Download Our Free App

Advertise Here